You are here: Homeक्राईमअन्य क्राईमINX मनी लॉन्ड्रिंग केस: पी चिदंबरम के बेटे कार्ती गिरफ्तार

INX मनी लॉन्ड्रिंग केस: पी चिदंबरम के बेटे कार्ती गिरफ्तार Featured

Written by  Published in Other Crimes Wednesday, 28 February 2018 11:22

नई दिल्ली॥ पूर्व वित्त मंत्री और कांग्रेस के बड़े नेता पी चिदंबरम के बेटे कार्ती चिदंबरम को सीबीआई ने गिरफ़्तार कर लिया है। सीबीआई ने चेन्नई से कार्ती चिदंबरम को गिरफ़्तार किया है। INX  मनी लॉन्ड्रिंग केस में कार्ती की गिरफ़्तारी हुई है।इस केस में कुछ दिन पहले ही उनके चार्टर्ड अकाउंटेंट (सीए) एस। भास्कर रमन को भी गिरफ्तार किया गया था। कांग्रेस नेता रणदीप सुरजेवाला ने कहा कि चिदंबरम और उनके परिवार के खिलाफ द्वेष से की गई कार्रवाई से डरने वाली नहीं है और हम सत्‍य को सामने लाने का काम जारी रखेंगे।

सीबीआई आज कार्ति को दिल्ली लाएगी और कोर्ट में पेश करेगी। हाल ही में उनके सीए को भी गिरफ़्तार कर 14 दिन के लिए जेल भेज दिया गया है। आरोप है कि INX मीडिया को विदेशी निवेश की मंज़ूरी के लिए कार्ति को INX मीडिया से 10 लाख की रिश्वत मिली थी। INX को 4 करोड़ के विदेशी निवेश की मंज़ूरी मिली, लेकिन INX ने 305 करोड़ रुपये लिए।पी चिदंबरम के वित्त मंत्री रहते हुए INX को विदेशी निवेश की मंज़ूरी मिली थी।

FIR में आरोपी

- INX मीडिया प्रा. लि. मुंबई में निदेशक रहीं इंद्राणी मुखर्जी, अन्य

- INX न्यूज़ प्रा.लि. निदेशक रहे प्रतिम मुखर्जी पीटर मुखर्जी, अन्य

- कार्ति चिदंबरम, चेन्नई

- चेस मैनेजमेंट सर्विस जिसका प्रतिनिधित्व किया निदेशक रहे कार्ति चिदंबरम

- एडवांटेज स्ट्रेटजिक कंसल्टिंग के प्रतिनिधि पद्मा विश्वनाथन

- भारत सरकार के अज्ञात अफ़सर या कर्मचारी

- अन्य अज्ञात लोग

 

आपको बता दें कि 26 फरवरी को दिल्ली की एक अदालत ने कार्ती चिदंबरम के चार्टर्ड एकाउंटेंट (सीए) एस भास्कररमन को 14 दिन की न्यायिक हिरासत में भेज दिया था। भास्कररमन को आईएनएक्स मीडिया से जुड़े धनशोधन मामले में गिरफ्तार किया गया था। विशेष न्यायाधीश एन के मल्होत्रा ने सीए को तिहाड़ जेल भेज दिया था। ईडी के विशेष लोक अभियोजक नीतेश राणा ने उनसे और तीन दिन की न्यायिक पूछताछ के लिए अनुमति मांगी थी।

भास्कररमन को 16 फरवरी को राष्ट्रीय राजधानी में एक पांच सितारा होटल से गिरफ्तार किया गया था। कार्ति का नाम 2007 में आईएनएक्स मीडिया में कोषों को स्वीकार करने के लिए विदेशी निवेश संबर्धन बोर्ड की मंजूरी से जुड़े एक मामले में सामने आया है। उस समय उनके पिता पी चिदंबरम केंद्रीय वित्त मंत्री थे।

ईडी ने विगत में दावा किया था कि सीए भास्कररमन ‘‘गलत तरीके से अर्जित संपत्ति’’ के प्रबंधन में कार्ति की मदद कर रहे थे।

Read 175 times

Photos

एडिटर ओपेनियन

दावोस: PM मोदी ने CEOs के साथ की बैठक, भारत के विकास और बिजनेस के अवसरों की 10 बातें

दावोस: PM मोदी ...

नई दिल्ली॥ प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी मंग...

एसबीआई ने कमाया 12.35% का शुद्ध लाभ

एसबीआई ने कमाया...

मुंबई॥ देश के सबसे बड़े बैंक भारतीय स्टे...

इंफोसिस को जबरदस्त मुनाफा, शेयर में तेजी!

इंफोसिस को जबरद...

मुंबई।। इंफोसिस लिमिटेड ने इस वित्त वर्ष...

नैनो का CNG मॉडल लॉन्च, कीमत 2.52 लाख

नैनो का CNG मॉड...

मुंबई।। टाटा ने नैनो का सीएनजी मॉडल लॉन्...

Video of the Day

Contact Us

About Us

Udyog Vihar Newspaper is one of the renowned media house in print and web media. It has earned appreciation from various eminent media personalities and readers. ‘Udyog Vihar’ is founded by Mr. Satendra Singh.