You are here: Homeखेलक्रिकेटकरुण नायर के खून में है क्रिकेट : कलाधरन नायर

करुण नायर के खून में है क्रिकेट : कलाधरन नायर Featured

Written by  Published in Cricket Tuesday, 20 December 2016 07:20

इंग्लैंड के खिलाफ एम. ए. चिदंबरम स्टेडियम में चल रहे पांचवें और अंतिम टेस्ट मैच के चौथे दिन सोमवार तिहरा शतक लगाने वाले बल्लेबाज करुण नायर के पिता कलाधरन नायर ने कहा कि क्रिकेट 10 साल की उम्र से ही उनके खून में दौड़ रहा है. करियर का तीसरा टेस्ट मैच खेल रहे नायर ने 303 रनों की नाबाद पारी खेली.

अपने बेटे की ऐतिहासिक उपलब्धि से खुश कलाधरन ने यहां मीडिया से बातचीत में कहा, 'मैं और मेरी पत्नी ने स्टेडियम में बैठ कर अपने बेटे को खेलते देखा. 10 साल की उम्र से ही क्रिकेट उसके खून में दौड़ने लगा था और उसने कड़ी मेहनत की है. उसने यहां तक पहुंचने से पहले पांच साल प्रथण श्रेणी क्रिकेट और उसके बाद दो साल तक रणजी खेला.'

'बेटे की कामयाबी से खुश हूं'

अपने बेटे से मिलने पर क्या कहेंगे? इस बारे में कलाधरन ने कहा, "मैं भले ही स्टेडियम में मौजूद था, लेकिन मैं उससे शाम को होटल में ही मिलूंगा. उससे क्या कहना है इस समय मैं इस बात को निजी रखना चाहता हूं.' नायर सोमवार को टेस्ट करियर के पहले शतक के तौर पर तिहरा शतक लगाने वाले दुनिया के तीसरे और भारत के पहले बल्लेबाज बने. इस सूची में पहले स्थान पर वेस्टइंडीज के पूर्व बल्लेबाज गैरी सोबर्स और दूसरे स्थान पर ऑस्ट्रेलिया के बॉब सिम्पसन हैं.

 

आठ महीने में पैदा हुए थे करुण

अपने बेटे के शानदार प्रदर्शन से भावुक नायर की मां ने कहा, "नायर का जन्म नौ महीने से कम अवधि में हुआ था और चिकित्सकों ने हमें उसका अधिक ध्यान देने का सुझाव दिया था. नायर ने कम उम्र से ही गलियों से क्रिकेट खेलना शुरू कर दिया था.' मां ने कहा, 'हम अपनी भावनाओं पर काबू नहीं कर पा रहे. हमारी इच्छा थी कि वह भारत के लिए खेले और उन्होंने ऐसा कर दिखाया. आज हमारी इच्छा थी कि वह शतक लगाएं और उन्होंने वो भी कर दिखाया. इससे अधिक और क्या कहें? हम बहुत गौरवान्वित महसूस कर रहे हैं. मैं नहीं जानती कि मैं जब शाम को उससे मिलूंगी तो क्या कहूंगी.'

 

करुण को शतक लगाने का था भरोसा

करुण टेस्ट में शतक लगाने वाले पहले मलयाली खिलाड़ी बन गए हैं. वह हालांकि बेंगलुरू में रहते हैं और कर्नाटक के लिए रणजी ट्रॉफी खेलते हैं लेकिन उनके माता-पिता केरल के अलप्पुझा के चेंगानूर के रहने वाले हैं और समय-समय पर वहां जाते रहते हैं. केरल के रणजी खिलाड़ी सचिन बेबी ने मीडिया से बातचीत में कहा कि वह नायर के शतक लगाने वाले पहले मलयाली खिलाड़ी बनने की खबर सुनकर काफी खुश हैं. बेबी ने मीडिया से बात करते हुए कहा, 'मैंने उनसे कल रात बात की थी. उन्होंने जो किया उसको लेकर वह आश्वस्त लग रहे थे. उन्होंने कहा था कि उन्हें भरोसा है कि वह शतक लगाएंगे. मैं उनके लिए बेहद खुश हूं.'

बाल-बाल बची थी करुण की जान

इससे पहले नायर का नाम इसी साल अपने गृहनगर के करीब श्री पार्थसारथी मंदिर में एक हादसे के दौरान उनका नाम चर्चा में आया था. जिस नाव में वह सफर कर रहे थे वह डूब गई थी जिसमें 100 यात्री सवार थे. स्थानीय लोगों ने नायर तथा अन्य यात्रियों को इस हादसे से बचाया था. नायर से पहले केरल से टीनू योहानन और एस. श्रीसंत ही टेस्ट क्रिकेट में भारत का प्रतिनिधित्व कर सके हैं.

Read 738 times

Photos

एडिटर ओपेनियन

दावोस: PM मोदी ने CEOs के साथ की बैठक, भारत के विकास और बिजनेस के अवसरों की 10 बातें

दावोस: PM मोदी ...

नई दिल्ली॥ प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी मंग...

एसबीआई ने कमाया 12.35% का शुद्ध लाभ

एसबीआई ने कमाया...

मुंबई॥ देश के सबसे बड़े बैंक भारतीय स्टे...

इंफोसिस को जबरदस्त मुनाफा, शेयर में तेजी!

इंफोसिस को जबरद...

मुंबई।। इंफोसिस लिमिटेड ने इस वित्त वर्ष...

नैनो का CNG मॉडल लॉन्च, कीमत 2.52 लाख

नैनो का CNG मॉड...

मुंबई।। टाटा ने नैनो का सीएनजी मॉडल लॉन्...

Video of the Day

Contact Us

About Us

Udyog Vihar Newspaper is one of the renowned media house in print and web media. It has earned appreciation from various eminent media personalities and readers. ‘Udyog Vihar’ is founded by Mr. Satendra Singh.