You are here: Homeदेशशिक्षाप्रबंधन स्‍तर पर खुद को बनाना है बेहतर तो ये करिए

प्रबंधन स्‍तर पर खुद को बनाना है बेहतर तो ये करिए

Written by  Published in Education Monday, 25 July 2016 07:14

हम समूह पसंद लोग हैं। हमारे सुख.दुख सब कुछ समूह में ही व्यक्त होते हैं। फिर जब यात्रा की बात हो तो हम अकेले यात्रा करने का विचार भी कैसे कर सकते हैं यात्रा यानी की सामूहिकताए मस्ती तो वो अकेले कैसे हो सकती है लेकिन जब बात यात्राओं के अनुभव की होती है तो वो सारे अनुभव अकेले ही आते हैं।

देखिए लिफ्ट में इस तरह भी हो सकता है लुटेरे से सामना

अकेले यात्रा करना हमें बहुत कुछ सिखाता है। यदि आप अपने जीवन में नए अनुभव लेना चाहते हैं और खुद को मानसिकए भावनात्मक और प्रबंधन के स्तर पर बेहतर बनाना चाहते हैं तो आपको अकेले यात्रा करना ही चाहिए। यात्राएं आपका नजरिया बदल देती हैंए समस्याओं के प्रति आपके दृष्टिकोण में बदलाव करती है। आप न सिर्फ दुनिया को जानते हैंए बल्कि आप यात्राओं के माध्यम से स्वयं को भी जानते हैं। खासतौर पर जब आप अकेले यात्रा करते हैंए आप ज्यादा जिम्मेदार और ज्यादा मुक्त रहते हैं। देखें कि अकेले यात्रा करने पर हम क्या पाते हैं

अपने कंफर्ट जोन से बाहर आना

अकेले होने का डर दुनिया के कुछ सबसे कॉमन भय में से एक है। अकेले रहने का मतलब है कि आप अपने मालिक खुद हैं। जब आप अकेले यात्रा पर होते हैं तो आपकी देखभाल के लिए कोई दोस्त या रिश्तेदार नहीं

होते हैं। इस लिहाज से आप अपने सुरक्षा कवच से बाहर कदम रखते हैं। यह आपको बहुत सारे अनुभव करने और अलग.अलग तरह के माहौल में खुद को एडजस्ट करने में मदद करता है। इसके साथ ही आप चीजों को बहुत जल्दी-जल्दी सीखते हैं।

प्लानिंग करने में बेहतरी

यदि आपने एक बार भी यात्रा की है तो आप इस बात पर सहमत होंगे कि आपने कई चीजों की योजना पहले से ही बना ली थी। फ्लाइट की टिकटए होटल्स के साथ जरूरी सामान की लिस्ट और पैसे से संबंध‍ित योजना भी

आप बना चुके होते हैं। और यदि आप अकेले यात्रा करते हैं तो आपने यह भी जाना होगा कि योजना कैसे बनाई जाती हैंघ् और यह आपकी प्लानिंग स्किल को और बेहतर करती है। अपने करियर में सफलता पाने के लिए

यह स्किल आपको बहुत काम आएगी। यदि आपके पास बेहतर योजना बनाने की कला है तो आप ज्यादा उत्पादक होंगें और बेकार के कामों में बहुत समय और ऊर्जा बर्बाद नहीं करेंगे।

बजट बनाएंगे व उसे लागू भी करेंगे

इससे फर्क नहीं पड़ता है कि आपकी मंजिल क्या है आपके पास हमेशा ही बजट सीमित ही होगा। बेहतर यात्री होने के लिए यह आपको सीखना होगा कि बजट कैसे बनाएं और कैसे उसके हिसाब से काम करें। सबसे

पहले अपने अनुमानित खर्च को जानने के लिए एप डाउनलोड कर लें। फिर उनके आधार पर आप अपना बजट बनाएं। अकेले यात्रा करने में आप पैसा बचाएंगे। आप बहुत महंगे रेस्टोरेंट में नहीं जाएंगेए महंगी जगह नहीं ठहरेंगे। बजट बनाना और उसका पालन करने की कला आपको एंटरप्रेन्योरशिप बाद में भी काम आएगी।

रचनात्मक सोच का विकास

आप अपने ही देश की यात्रा में यह सोचकर चलते हैं कि अंग्रेजी तो सब हिंदीभाषी समझेंगे लेकिन बहुत जल्द ही आपकी यह भ्रांति दूर हो जाती है जब आप पाते हैं कि अध‍िकांश लोग अंग्रेजी नहीं समझते हैं। यहां से असल समस्या शुरू होती है क्योंकि आप उनकी भाषा नहीं जानते हैं और वो आपकी संवाद मुश्किल हो जाता है। ऐसे में आपकी कल्पना शक्ति और अपनी बात को बिना भाषा के व्यक्त करने का कौशल ही आपकी मदद कर सकता है। यही आपकी रचनात्मकता की भी परीक्षा है।

बहुत सारे डरों से पार जाना

हरेक के पास अलग-अलग तरह के डर होते हैं। जब आप अकेले यात्रा करते हैं तो आप हर दिन एक नई तरह की समस्या का सामना करते हैंए और यही सबसे बेहतर समय होता है उसे हल करने का। यदि आप अपने डर को जानते हैं तो आप उससे बाहर आने के लिए प्रयास भी करेंगे। अनुभव यह बताता है कि लोग तब ज्यादा मजबूत

होते हैं जब वे अपने डर से संघर्ष करते हैं। इसलिए जरूरी है कि अपने डर का सामना करें।

 

 

 

Read 549 times Last modified on Monday, 25 July 2016 07:19

Photos

एडिटर ओपेनियन

दावोस: PM मोदी ने CEOs के साथ की बैठक, भारत के विकास और बिजनेस के अवसरों की 10 बातें

दावोस: PM मोदी ...

नई दिल्ली॥ प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी मंग...

एसबीआई ने कमाया 12.35% का शुद्ध लाभ

एसबीआई ने कमाया...

मुंबई॥ देश के सबसे बड़े बैंक भारतीय स्टे...

इंफोसिस को जबरदस्त मुनाफा, शेयर में तेजी!

इंफोसिस को जबरद...

मुंबई।। इंफोसिस लिमिटेड ने इस वित्त वर्ष...

नैनो का CNG मॉडल लॉन्च, कीमत 2.52 लाख

नैनो का CNG मॉड...

मुंबई।। टाटा ने नैनो का सीएनजी मॉडल लॉन्...

Video of the Day

Contact Us

About Us

Udyog Vihar Newspaper is one of the renowned media house in print and web media. It has earned appreciation from various eminent media personalities and readers. ‘Udyog Vihar’ is founded by Mr. Satendra Singh.